पाकिस्तान में अपने दोस्त को व्हाट्सअप पर इस्लाम के लिए अपमानजनक संदेश भेजने पर एक ईसाई को मृत्युदंड की सजा सुनाई गई। जानकारी मुताबिक, नदीम जेम्स मसीह को जुलाई में आरोपित किया गया था। उससे पहले उसके दोस्त ने पुलिस में शिकायत की थी मसीह ने व्हाट्सअप पर एक कविता भेजी थी जो इस्लाम का अपमान कर रही थी। इस घटना के बाद मसीह पंजाब प्रांत के सारा-ए-आलमगीर कस्बे में क्रुद्ध भीड़ से बचने के लिए अपने घर से भाग गया था लेकिन बाद में उसने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। उसकी सुनवाई सुरक्षा कारणों से जेल में एक साल