गुड़िया प्रकरण की जांच कर रही सीबीआई को हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट ने कड़ी फटकार लगाई है. और CBI को 2 हफ्ते में विस्तृत रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा. मामले की अगली सुनवाई 25 अक्टूबर को होगी. सीबीआई की सुस्त जांच से नाराज़ अदालत ने कहा कि अगर उसके बस की बात नहीं है तो जांच एनआईए से करवाई जाए. इससे पहले सीबीआई ने बंद लिफाफे में स्टेट्स रिपोर्ट पेश की. सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि जांच एजेंसी वैज्ञानिक ढंग से मामले की जांच को आगे बढ़ा रही है. एसआईटी ने जिन 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया था उनके नार्को टेस्ट की

कोटखाई रेप मर्डर केस में पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश किया. इस मामले में कोर्ट ने पांच आरोपियों को 7 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. उल्लेखनीय है कि चार जुलाई को कोटखाई की रहने वाली गुड़िया (बदला हुआ नाम) स्कूल से वापस आते समय लापता हो गई थी. 6 जुलाई को उसका शव जंगल में मिला था. इस मामले में गुड़िया से पहले सामूहिक दुष्कर्म और निर्मम हत्या की पुष्टि हुई थी. इसके बाद से मामले को लेकर लोगों में गुस्सा है. गैंगरेप के दौरान ही चली गई थी छात्रा की जान, दरिंदगी की दास्तां सुन आपकी