नई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट ने तमिलनाडु सरकार को निर्देश दिया कि वह (नेशनल एलिजिबिल्टी एंड एंट्रेंस टेस्ट) नीट परीक्षा के मुद्दे पर राज्य में कहीं भी कोई प्रदर्शन न होने दे। तमिलनाडु में एक दलित मेडिकल परीक्षार्थी की आत्महत्या के बाद से विरोध प्रदर्शन तेज हो गए हैं। सर्वोच्च अदालत ने शुक्रवार को राज्य सरकार को कहा कि राज्य में कानून-व्यवस्था के लिये संकट खड़े करने वाले किसी भी व्यक्ति को उपयुक्त कानून के तहत दंडित किया जाए। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के नेतृत्व वाली खंडपीठ ने राज्य सरकार को नोटिस दिया कि वह तमिलनाडु में कानून व्यवस्था कायम करने के लिये

नीट आधारित मेडिकल परीक्षा के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में लड़ाई लड़ने वाली 17 वर्षीय दलित लड़की अनीता ने कथित तौर पर खुदकुशी करने की घटना के बाद पूरे तमिलनाडु में प्रदर्शन शुरू हो गया है. चेन्नई में विपक्षी पार्टियों के करीब 1500 कार्यकर्ताओं ने अलग-अलग जगहों पर विरोध प्रदर्शन किया है. इन सभी ने राज्य की पलानीसामी सरकार और केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों का आरोप था कि सरकारें तमिलानाडु को इस परीक्षा से छूट नहीं दिला पाईं. आपको बता दें कि तमिलनाडु को राष्ट्रीय प्रवेश-योग्यता परीक्षा (नीट) के दायरे से छूट नहीं दिये जाने के बारे में जानकर

चंडीगढ़ सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन यानी CBSE ने NEET का रिजल्‍ट जारी कर दिया है. आप इसे ऑफिशियल वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं. इस बार पंजाब के नवदीप सिंह ने नीट परीक्षा में टॉप किया है. उन्‍होंने AIR 1 rank के साथ कुल 697 अंक हासिल किए हैं. दूसरे स्‍थान पर अर्चित गुप्‍ता हैं, जिनके 695 अंक हैं. तीसरे स्‍थान पर मनीश मूलचंदानी हैं, जिनके भी 695 मार्क्‍स हैं. फीमेल केटेगरी में निकिता गोयल टॉपर बनी हैं. इस बार 6.11 लाख छात्रों ने नीट परीक्षा क्‍लीयर की है. जबकि एमबीबीएस के लिए 63,800 सीट्स और बीडीएस के लिए 40,000 सीट्स हैं. गौरतलब

दिल्ली केंद्र सरकार जल्‍द ही आयुर्वेद, योगा, नेचुरोपैथी, यूनानी, होम्‍योपैथी यानी AYUSH कोर्सेज के लिए NEET की तर्ज पर सिंगल एंट्रेंस एग्‍जाम की घोषणा कर सकती है. आयुष मंत्रालय ने सभी राज्‍यों को इस नई योजना की जानकारी भेज दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सरकार की योजना है कि मॉडर्न मेडिसिन में कॉमन एंट्रेंस एग्‍जाम की तरह ही इस एग्‍जाम का पैटर्न भी तैयार किया जाए. आयुष मंत्री श्रीपद येस्‍सो नाइक ने कहा, 'हमने राज्‍यों को यह कहा है कि वह NEET के आधार पर ही इस साल बच्‍चों को एडमिशन दें.' उन्‍होंने ये भी बताया कि जो कॉलेज और संस्‍थान, आयुष