पटियाला पुलिस ने पटियाला के चीका रोड पर हत्या, लूट व अन्य आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के सात सदस्यों को गिरफ्तार किया है। ये लोग कत्ल , लूटपाट, गाड़ियां लूटने जैसे 9 से अधिक केसों में नामजद और भगोड़े हैं। गिरफ्तार किए आरोपियों में गैंग का सरगना मनवीर सिंह निवासी होशियारपुर,  मनदीप सिंह उर्फ मन्ना निवासी जालंधर,  यादविंदर सिंह उर्फ यादू निवासी लुधियाना, जोगराज सिंह उर्फ जोगा निवासी जालंधर, संजीव कुमार उर्फ मिंटा निवासी होशियारपुर, अमनजीत सिंह उर्फ बीरू निवासी होशियारपुर और मुकुल देव निवासी नकोदर रोड जालंधर शामिल हैं। ये लोग लूटपाट की तैयारी में थे, लेकिन सीआइए

पटियाला के बाहर महमूदपुर में किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है. अपनी मांगों को लेकर किसान धरने पर बैठे हुए हैं. सोमवार को भी भारी तादाद में किसान प्रदर्शन में शामिल हुए. प्रदर्शन के दौरान किसानों ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी गई तो वो बड़ी कुर्बानी से भी पीछे नहीं हटेंगे. इस दौरान किसानों ने सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और कैबिनेट मंत्री मनप्रीत सिंह बादल पर सवाल उठाए. किसानों ने कहा कि चुनाव से पहले कांग्रेस ने जो वायदे किए थे,उन्हें पूरा नहीं किया जा रहा है. दरअसल, पंजाब के किसान हर

पटियाला स्थित निजी आईटीआई में पंजाब और हरियाणा से आए छात्रों ने जमकर हंगामा किया। छात्रों का आरोप है कि समय के हिसाब से चार घंटे पेपर लेट शुरू हुआ है। पेपर का समय ढाई बजे का था, लेकिन वो शाम के छह बजे के बाद शुरू हुआ। जिसके चलते छात्रों को रात के साढ़े आठ बज गए। छात्रों ने आईटीआई प्रशासन के रवैए पर सवाल उठाए हैं। वहीं छात्रों ने निजी आईटीआई के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।  

पंजाब सरकार की तरफ से वकीलों पर प्रोफेशनल टैक्स लगाने की बात की जा रही है, जिसको लेकर वकीलों ने विरोध शुरू कर दिया है। आज प्रदेशभर में वकीलों की तरफ से प्रदर्शन किया जा रहा है। इसी कड़ी में पटियाला में भी वकीलों ने काम छोड़कर प्रदर्शन किया। वकीलों का कहना है कि, सरकार वकीलों पर प्रोफेशन टैक्स लगाने की बात कर रही है,लेकिन अगर सरकार ने अपना फैसला नहीं बदला तो विरोध तेज होगा।

अमृतसर शिक्षकों एवं चिकित्सकों की कमी से जूझ रहे अमृतसर व पटियाला सरकारी मेडिकल कॉलेजों में 400 सीनियर रेजीडेंट डॉक्टरों की तैनाती की जाएगी. पंजाब सरकार द्वारा इन डॉक्टरों की नियुक्ति की प्रक्रिया सोमवार को संपन्न कर ली जाएगी. यदि ये 400 डॉक्टर इन दोनों मेडिकल कॉलेजों में ज्वाइन करते हैं तो निसंदेह इन कॉलेजों की कई समस्याएं खत्म हो जाएंगी. दरअसल, मेडिकल शिक्षा एवं खोज विभाग अरसे से सीनियर रेजीडेंट डॉक्टरों की तैनाती के लिए प्रयास कर रहा है. पिछले वर्ष भी डॉक्टरों की भर्ती प्रक्रिया संपन्न हुई थी, लेकिन स्टेशन अलॉटमेंट के बावजूद डॉक्टरों ज्वाइन नहीं किया। इसका सही कारण

पंजाब के पटियाला में एक महिला को बेटी पैदा होने और दहेज न देने के कारण हॉकी से पिटाई गई. महिला के देवर और उसके दोस्तों ने ही गुरुवार को महिला की पिटाई की. अब इस घटना का वीडियो सामने आया है. महिला के घरवालों ने इसमें पति का हाथ होने की भी बात कही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ये घटना गुरुवार को डिविजन नंबर दो थाने के अधीन नाभा गेट एफटूजी होटल के पास की है. पीड़िता के परिवार को कहना है कि उसके हाथ की अंगुलियां और घुटने की हड्डियां टूट गई हैं. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस

पटियाला में लाइनमैन ने पावरकॉम हेड ऑफिस के सामने भूख हड़ताल की। इस मौके पर आम आदमी पार्टी के विधायक और बेरोजगार लाइनमैन यूनियन के नेता निर्मल सिंह खालसा भी एक दिन की भूख हड़ताल पर बैठे। निर्मल सिंह खालसा ने कहा कि जब शिरोमणि अकाली दल की सरकार के दौरान उन्होंने संघर्ष किया था तो परनीत कौर, साधू सिंह धर्मसोत,चरण जीत सिंह चन्नी भी उनके संघर्ष में शामिल हुए थे। उन्होंने ये वादा किया था कि पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनते ही बेरोजगार लाइनमैनों को रोजगार दिया जाएगा, लेकिन सरकार बनने के सौ दिन पूरे होने के बाद

पटियाला में हत्या के विरोध में प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारी बेकाबू हो गए और तोड़फोड़ शुरू कर दी। इतना ही नहीं, प्रदार्शनकारी पुलिस कर्मियों से भी भिड़ गए। मामला बढ़ता देख पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया और भीड़ को खदेड़ दिया। बताया जा रहा है कि धीरू की बस्ती में आपसी रंजिश में एक शख्स की हत्या कर दी, जिसके विरोध में मृतक के परिजन सड़कों पर उतरे और प्रदर्शन किया, लेकिन अचानक प्रदर्शनकारी बेकाबू हो गए और तोड़फोड़ शुरू कर दी। फिलहाल, इलाके में तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है लेकिन पुलिस का कहना है कि स्थिति पर काबू पा

पटियाला के एक निजी अस्पताल में ऑपरेशन के दौरान महिला की मौत का मामला सामने आया है। मृतक के परिजनों ने अस्पताल के बाहर मृतक का शव रखकर प्रदर्शन किया और अस्पताल के डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया। जानकारी के मुताबिक, 65 साल की वृद्ध महिला को पथरी के दर्द के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया था, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। वहीं, परिजनों ने अस्पताल के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया और प्रशासन से इंसाफ की मांग करते हुए डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। उधर, पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

राज्य सरकार के पहले आम बजट में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के शाही शहर को अब चार यूनिवर्सिटीज से नई पहचान मिलेगी. आम बजट में खेल प्रेमियों के साथ-साथ शिक्षा, सेहत के समुचित विकास के लिए भारी-भरकम राशि प्रदान किए जाने की घोषणा से शहरवासियों के लिए खुशी का टिकाना नहीं दिखाई दे रहा है. खेलों के विकास के लिए राज्य की पहली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की स्थापना की घोषणा सबसे अहम है. वहीं सरकारी मेडिकल कॉलेज व सरकारी राजिंदरा कॉलेज को संवारने को 100 करोड़ रुपये, राज्य के सबसे पुराने सरकारी मोहिंदूरा कॉलेज के लिए 10 करोड़ रुपये, सेंट्रल लाइब्रेरी के