पेट्रोल-डीजल की महंगाई से परेशान लोगों के लिए अच्छी खबर है. सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज़ ड्यूटी 2 रुपये घटा दी है. ये कटौती बीती रात बारह बजे से लागू हो गयी है. पिछले कुछ महीनों में पेट्रोल-डीजल के दाम जिस तरह आसमान छू रहे थे, उससे सरकार पर कीमतें घटाने का दबाव लगातार बढ़ रहा था. अब मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीज़ल की महंगाई से परेशान लोगों को लंबे इंतज़ार के बाद कुछ राहत देने का काम किया है. ये कटौती बीती रात 12 बजे से लागू हो गई है. जिससे देश भर में पेट्रोल डीजल के दाम घट गए हैं.राजधानी

पेट्रोल और डीजल की बेतहाशा बढ़ी कीमतों से आम आदमी को जल्द राहत मिल सकती है. पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने मंगलवार को कहा कि पेट्रोल, डीजल के दाम अगले महीने दिवाली तक नीचे आ सकते हैं। पेट्रोल और डीजल की बढ़ी कीमतों को लेकर सरकार की लगातार आलोचना हो रही है. विपक्षी पार्टियों ने इस मुद्दे को लेकर सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. मंगलवार को प्रधान ने कहा कि अमेरिका में बाढ़ की वजह से तेल उत्पादन में 13 फीसदी की कमी आई है. इसकी वजह से रिफाइनरी तेल के दाम मजबूत हुए हैं. उन्होंने

आज से देश के पांच शहरों में पेट्रोल और डीजल के दाम रोजाना बदलेंगे। वैश्विक कच्चे तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव का सामना बेहतर तरीके से करने के लिए यह कदम उठाया गया है। ये शहर हैं-पुदुचेरी, विजाग, उदयपुर, जमशेदपुर और चंडीगढ़। इंडियन अॉयल कॉरपोरेशन, हिंदुस्तान पेट्रोलियम लिमिटेड और भारत पेट्रोलियम लिमिटेड के देश भर में करीब 95 प्रतिशत पेट्रोल पंप हैं। कंपनियां 5 शहरों में पहले इसे पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू करेंगी और फिर इसे देश के अन्य शहरों में भी लागू किया जाएगा। अब तक यह होता है: मौजूदा समय में हर 15 दिन में डीजल-पेट्रोल की कीमतों

दिल्ली एक मई से अब रोजाना पेट्रोल-डीजल के दाम तय होंगे. शुरुआत में सरकार ने ये व्यवस्था पांच शहरों में लागू करने का फैसला किया है. इस फैसले के बाद अब कच्चे तेल की ताजा लागत के हिसाब से पेट्रोल-डीजल के दाम तय होंगे और दाम तय करने के लिए मौजूदा व्यवस्था के अनुसार 15 दिनों का इंतजार नहीं करना पड़ेगा. पेट्रोलिय मिनिस्ट्रर धर्मेंद्र प्रधान ने बताया कि ये पायलट प्रोजेक्ट पुद्चेरी, विशाखापटनम, उदयपुर, जमशेदपुर और चंडीगढ़ में शुरू होगा और इन शहरों में रोजाना पेट्रोल-डीजल के दाम तय होंगे. उन्होंने कहा कि अगर यह पायलट प्रोजेक्ट सफल रहता है तो इसे बाकी