दिल्ली स्कूली छात्रों पर बस्ते का बोझ कम करने के लिए सरकार 'ई बस्ता' कार्यक्रम को आगे बढ़ा रही है. इसके जरिये छात्र अपनी रुचि और पसंद के मुताबिक पाठ्य सामग्री डाउनलोड कर सकेंगे, साथ ही स्कूलों में डिजिटल ब्लैकबोर्ड भी लगाया जाएगा. मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि स्कूली बच्चों पर बस्ते के बढ़ते बोझ को कम करने के लिए यह कार्यक्रम शुरू किया गया और छात्रों, शिक्षकों ने इसमें काफी रुचि दिखाई है. यह एक ऐसा प्लेटफार्म है, जहां छात्र, शिक्षक एवं रिटेलर्स एक साथ मिलकर एक-दूसरे की जरूरत को पूरा कर सकते हैं.

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युम्न की हत्या के बाद केन्द्र सरकार स्कूली बच्चों की सुरक्षा के लिए गाइडलाइंस तय करने के आज बड़ी बैठक बुलाई है. मानव संसाधन विकास मंत्रालय और बाल विकास कल्याण मंत्रालय ने स्कूली बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर बडी बैठक बुलाई है. इस बैठक में बचचों की सुरक्षा के लिए गाइडलाइंस जारी की जाएगी. मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर और महिला बाल कल्याण मंत्री मेनका गांधी शैक्षणिक संस्थानों में सुरक्षा प्रोटोकॉल तैयार करने को लेकर आज एक उच्च स्तरीय बैठक कर रहे हैं. इस बैठक में बाल अधिकार संरक्षण आयोग, सीबीएसई, एनसीआईआरटी और

चंडीगढ़ केंद्रीय एचआरडी मिनिस्टर प्रकाश जावड़ेकर ने शिक्षा व्यवस्था को लेकर कहा कि सरकारी स्कूल में शिक्षा में सुधार के लिए एक प्रोग्राम शुरू किया है, जिसका नारा है सबको शिक्षा, अच्छी शिक्षा. साथ ही प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि बीएड कॉलेजों से परफॉर्मेंस की रिपोर्ट मांगी गई है और 30 जून तक रिपोर्ट नहीं देने पर मान्यता रद्द होगी. वहीं, जावड़ेकर ने मुंहमांगी फीस वसूल रहे प्राइवेट स्कूलों को वॉर्निंग दी है. जावड़ेकर ने कहा- प्राइवेट स्कूल गैरवाज़िब फीस और छुपे हुए चार्ज नहीं वसूल सकते. इससे पैरेंट्स को तकलीफ होती है. मिनिस्टर ने कहा- सीबीएससी ने इस बारे में तमाम स्कूलों