जम्मू एवं कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ अभियान में सुरक्षा बलों को एक बार फिर से बड़ी कामयाबी मिली है. पुलवामा में सुरक्षा बलों ने खूंखार आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर वसीम अहमद शाह और आतंकी निसार अहमद मीर को मार गिराया. शनिवार सुबह से ही सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है. इससे पहले सुरक्षा बलों ने लश्कर-ए-तैय्यबा के कमांडर समेत 3 आतंकियों को घेर लिया. फिलहाल दोनों ओर से भारी गोलीबारी जारी है. इससे पहले बुधवार को जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा जिले में हुए मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को मार गिराया

कश्मीर घाटी के पुलवामा जिले में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. सुरक्षाबलों के साथ हाकरीपोरा गांव में मुठभेड़ में लश्कर कमांडर अबु दुजाना मारा गया है. दुजाना के साथ एक स्थानीय आतंकी आरिफ ललहारी भी मारा गया है. सुरक्षाबलों ने उस घर को आग लगा दी जिसमें आतंकियों के छिपे होने की खबर थी. अबु दुजाना लश्कर का टॉप कमांडर था. पिछले कई महीनों से सुरक्षाबलों ने दुजाना का मारने के लिए कई ऑपरेशन चलाए थे. उसपर सुरक्षाबलों ने 10 लाख का इनाम घोषित कर रखा था. पुलवामा के हाकरीपोरा गांव में सेना ने तड़के

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में रविवार सुबह सिक्युरिटी फोर्सेज और आतंकियों के बीच एनकाउंटर हुआ. तहाब एरिया में सिक्युरिटी फोर्सेज ने 2 आतंकियों को मार गिराया. ऑपरेशन फिलहाल अभी जारी है. सिक्युरिटी फोर्सेज ने पूरे इलाके को घेर रखा है. कश्मीर में इस साल आतंकी घुसपैठ की कोशिशों में इजाफा हुआ है. पिछले कुछ महीनों में आर्मी और सिक्युरिटी फोर्सेज ने कई बार ऐसी कोशिशों को नाकाम किया है. गुरेज सेक्टर में 27 जुलाई को आतंकियों ने घुसपैठ की कोशिश की थी, जिसे आर्मी ने नाकाम कर दिया था. संदिग्ध गतिविधियों का पता चलते ही आर्मी जवानों ने आतंकियों को ललकारा था।

उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले में तैनात एक कश्मीरी जवान सेना के कैंप से एके-47 और तीन मैगजीन लेकर फरार हो गया है. अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक जबूर अहमद ठाकोर 173 टेरिटोरियल आर्मी रेजिमेंट के इंजीनियरिंग विंग में तैनात था, जो बारामुला जिले के गांटमुला से फरार है. जहूर ठाकोर रात में सेना की यूनिट को चकमा देकर फरार हुआ है. ठाकोर पुलवामा का रहने वाला है. उसकी तलाश में पुलिस ने सर्च अभियान शुरू किया है. पुलिस ने उसके ज्ञात ठिकानों और घर पर सुरक्षा बल भेजे हैं और पूरी तत्परता के साथ तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. गौरतलब है कि

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सेना का ऑपरेशन लगातार जारी है. पुलवामा में पिछले 24 घंटों से सुरक्षाबल आतंकियों से मुठभेड़ कर रहे थे. अब मुठभेड़ खत्म हो गया है. इस कार्रवाई में जवानों ने तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया है. सोमवार से शुरू हुए इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों तीन आतंकियों को ढेर कर दिया. ये एनकाउंटर पुलवामा के बामनू इलाके में चल रहा था. इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है. ये एनकाउंटर सोमवार सुबह शुरू हुआ था. बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों ने तीन नए आतंकियों को अपना निशाना बनाया. आपको बता दें कि जून के आखिर में ही सेना

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच देर रात से मुठभेड़ जारी है। सुरक्षाबलों को खबर मिली थी कि मलंगपोरा गांव मे आतंकी छिपे हैं। जैसे ही सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू किया, आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। कहा जा रहा है कि तीन आतंकी इलाके में छिपे हुए थे, जिसमें से सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया है, जबकि एक को घेर लिया है। वहीं सुरक्षाबलों पर स्थानीय शरारती तत्व पत्थरबाजी भी कर रहे हैं। गांव में आतंकी रियाज़ निक्कू और सैफुल्लाह मीर छुपे होने की आशंका हैं। फिलहाल दोनों ओर से गोलीबारी हो रही है।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सेना को बड़ी कामयाबी मिली है। रात भर हुई मुठभेड़ में सेना ने लश्कर के तीन आतंकियों को ढेर कर दिया। आतंकियों के नाम माजिद मीर, शरीक अहमद और इरशाद अहमद बताए जा रहे हैं। आतंकियों के पास से तीन AK-47 और भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद किए गए हैं। सुरक्षा बलों को खबर मिली थी कि काकापोरा में एक घर में आतंकी छिपे हैं। इसके बाद तुरंत इलाके को घेर लिया गया। रात करीब 9 बजे सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई। एनकाउंटर के दौरान सेना के एक अफसर के कंधे में गोली

जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में सीआरपीएफ कैंप पर ग्रेनेड अटैक से 10 जवान घायल हो गए हैं. घटना मंगलवार शाम 6 बजकर 5 मिनट पर हुई. मिली जानकारी के  मुताबिक हमला  सीआरपीएफ की 180 बटालियन को निशाना बनाकर किया गया.  पहले हमले में सीआरपीएफ के चार जवान घायल होने की खबर आई थी. हमले के बाद इलाके की घेरेबंदी कर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. सोमवार को भी आतंकियों ने पुलवामा जिले में सीआरपीएफ कैंप को निशाना बनाकर ग्रेनेड फेंका था. वहीं दूसरी तरफ नियंत्रण रेखा से सटे इलाके में पाकिस्तान की तरफ से होने वाले सीजफायर के मामलों में

पुलवामा कश्मीर में लश्कर ए तैयबा का कमांडर अबू दुजाना और उसके दो साथियों की तलाशी के लिए सेना ने पुलवामा जिले में सर्च ऑपरेशन ​शुरू कर दिया है. लेकिन सेना को पांचवी बार चकमा देने में वो कामयाब रहा है. कश्मीर में लश्कर का चीफ होने के कारण युवाओं को बरगलाकर वह आतंकी संगठन में शामिल कराता है, इसलिए सुरक्षाबलों को उसकी तलाश है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सेना ने उसकी तलाश में सर्च ऑपरेशन मंगलवार रात से ही शुरू कर दिया था, जिसमें दुजाना और उसके साथी घिर गए थे, लेकिन अंधेरे का फायदा उठाकर वे सेना के हाथ से भाग

कश्मीर में बिगड़े हालातों के बीच सोमवार को पुलवामा कॉलेज में आतंकी बुरहान वानी के पोस्टर लगाए गए. छात्रों ने पुलवामा डिग्री कॉलेज के प्रशासनिक ब्लॉक पर बुरहान वानी का पोस्टर लगाया. पोस्टर लगाने के बाद छात्रों और पुलिस के बीच जमकर झड़प हुई. दो दिन की छुट्टियों के बाद सोमवार को पुलवामा डिग्री कॉलेज फिर से खुला. छात्रों ने पहले कॉलेज के प्रशासनिक ब्लॉक पर हिजबुल कमांडर बुरहान वानी का पोस्टर लगाया और फिर पुलिस पर पत्थर फेंके. कुछ समय बाद छात्रों ने कॉलेज से बाहर आकर शहर में अन्य पत्थरबाजों के साथ पुलिस वाहनों पर पत्थरबाजी की. पत्थरबाजों को