देश के पहले नागरिक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गुरुनगरी अमृतसर पहुंचे. जहां उन्‍होंने श्री दरबार साहिब जी में दर्शन किए आैर माथा टेका. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद जालियांवाला बाग भी गए अौर शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित किए. उन्‍होंने गुरुघर में अरदास किया और लंगर भी चखा.  इस अवसर पर उनको सिरोपा भेंट कर सम्‍मनित किया गया. राष्‍ट्रपति के साथ उनका परिवार और पंजाब के राज्‍यपाल वीपी सिंह बदनौर भी थे. अमृतसर पहुंचने पर उनका स्‍वागत राज्‍य के मंत्री राणा गुरजीत सिंह, केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल स‍हित कई नेताओं ने किया. राष्‍ट्रपति ने श्री दरबार साहिब में दर्शन किया अौर माथा टेका. इसके

आज देशभर में खुशियों और रौशनी का त्यौहार दीपावली मनाया जा रहा है. रावण पर विजय प्राप्त करने के बाद श्रीराम अपना 14 वर्षों का वनवास पूरा कर आज के दिन ही अयोध्या वापस लौटे थे. जिसकी खुशी में दिए जलाकर उनका स्वागत किया गया और देशभर में दिवाली मनाई गई. तब से लेकर आज तक हर वर्ष इसी हर्षोल्लास के साथ देशभर में दीपावली पर्व मनाया जाता है. आपसी प्रेम और भाईचारे के इस पर्व के मौके पर लोग एक-दूसरे के साथ मिठाई बांटकर, दिए जालकर खुशियां मनाते हैं. दीपावली के दिन शाम के वक्त लक्ष्मी-गणेश की पूजा करने की

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आज चार दिवसीय यात्रा पर जिबूती और इथोपिया के लिए रवाना हो गए. राष्ट्रपति के रूप में रामनाथ कोविंद की यह पहली विदेश यात्रा है, इस यात्रा के दौरान आर्थिक सहयोग सहित कई समझौतों पर दस्तखत होने की उम्मीद है. राष्ट्रपति भवन के ट्वीट में कहा गया है, ‘‘ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद चार दिवसीय राजकीय यात्रा पर जिबूती और इथोपिया के लिए रवाना हो गये. राष्ट्रपति के तौर पर यह उनकी पहली विदेश यात्रा है. ’’ राष्ट्रपति का दौरा छह अक्टूबर तक चलेगा, जिबूती के राष्ट्रपति इस्माइल उमर के निमंत्रण पर वह तीन और चार अक्टूबर को वहां

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने देश के पांच राज्य मेघालय, असम, अरुणाचल प्रदेश, तमिलनाडु और बिहार में नए राज्यपालों की नियुक्ति की है. पूर्व केंद्रीय मंत्री सत्यपाल मलिक को बिहार और अंडमान निकोबार के उपराज्यपाल प्रोफेसर जगदीश मुखी को असम का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने एडमिरल (सेवानिवृत्त) देवेंद्र कुमार जोशी को अंडमान निकोबार का उपराज्यपाल नियुक्त किया है जो प्रोफेसर मुखी का स्थान लेंगे. राष्ट्रपति ने ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) बीडी मिश्रा को अरुणाचल, बनवारी लाल पुरोहित को तमिलनाडु और श्री गंगा प्रसाद को मेघालय का राज्यपाल नियुक्त किया.  इन

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दिल्ली में देश के नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। ये मुलाकात दिल्ली में सुबह साढ़े दस बजे हुई। राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद से सीएम मनोहर लाल की ये पहली मुलाकात है। सीएम ने इस दौरान राष्ट्रपति को गीता जयंती समारोह में आने का न्योता दिया।

रामनाथ कोविन्द ने भारत के 14वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली, चीफ जस्टिस ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई. संसद भवन के सेंट्रल हॉल में आयोजित इस शपथ ग्रहण समारोह में कई गणमान्य लोग मौजूद रहे. शपथ ग्रहण से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राजघाट जाकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी. इस दौरान उनकी पत्नी भी मौजूद थीं. नव-निर्वाचित राष्ट्रपति रामनाथ कोविंग के शपथ लेने के बाद उन्हें 21 तोपों की सलामी दी गई. इस समारोह में राज्य सभा के सभापति, प्रधानमंत्री, भारत के मुख्य न्यायाधीश, लोक सभा अध्यक्ष, मंत्री परिषद के सदस्य, राज्यपालगण, मुख्यमंत्रीगण, राजनयिक मिशनों

एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद परवाणू पहुंच गए हैं. परवाणू पहुंचने पर हिमाचल के पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने रामनाथ कोविंद का स्वागत किया. इस दौरान केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा और वेंकैया नायडू भी मौजूद रहे. कोविंद परवाणू में सांसदों और विधायकों से समर्थन के लिए मुलाकात कर रहे हैं.

राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष की उम्मीदवार नामित किये जाने के कुछ दिनों बाद मीरा कुमार सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर आग गई हैं. मीरा कुमार राष्ट्रपति चुनाव के लिए आगामी बुधवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी. सोमवार को उन्होंने ईद की बधाई दी और शाम तक उनके फालोवर की संख्या 2500 से ज्यादा हो गई. हालांकि मीरा कुमार केवल भारतीय कांग्रेस के पेज को फॉलो करती हैं. https://twitter.com/meira_kumar मीरा ने एक अन्य ट्वीट में लोगों से अपील की कि वे राष्ट्रपति चुनाव पर अद्यतन जानकारी के लिए उनके फेसबुक अकाउंट को फालो करें. करीब 31.3 करोड़ सक्रिय ट्विटर इस्तेमालकर्ता हैं जिनमें

एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को नामांकन दाखिल किया। इस हाई प्रोफाइल कार्यक्रम के लिए बीजेपी के दिग्गज नेताओं के अलावा एनडीए के समर्थक पार्टियों के लीडर्स भी पहुंचे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कुल 20 राज्यों के सीएम इस कार्यक्रम में मौजूद थे। बीजेपी शासित राज्यों के सीएम के अलावा तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव, तमिलनाडु के सीएम पलनिसामी और आंध्र प्रदेश के चंद्रबाबू नायडू भी नामांकन के दौरान मौजूद थे। पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कोविंद के प्रस्ताव बने। वहीं, बीजेपी के सबसे सीनियर नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर

बिहार के राज्यपाल राम नाथ कोविंद को एनडीए ने राष्ट्रपति पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है. रामनाथ कोविंद दलित समाज से आते हैं. वे मूल रूप से कानपुर, उत्तर प्रदेश से हैं. वो पिछले तीन साल से बिहार के राज्यपाल के तौर पर काम कर रहे हैं. जानकारी के मुताबिक रामनाथ कोविंद 23 जून को नामांकन करेंगे. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह ने कहा, एनडीए के सभी सहयोगियों के साथ चर्चा के बाद रामनाथ कोविद का नाम तय किया गया है. बताते चले कि रामनाथ बीजेपी अनुसूचित मोर्चा के अध्यक्ष भी रहे हैं. उपराष्ट्रपति के नाम की चर्चा नहीं शाह ने