आगरा में शुक्रवार को बस का टायर फटने से सड़क हादसा हुआ. बताया जा रहा है कि ये बस बच्चों को लेकर स्टडी टूर पर हिमाचल प्रदेश से आगरा जा रही थी. बस में सवार 40 स्कूली बच्चे घायल बताए जा रहे है, जिनको निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बता दें, कि एत्मादपुर के एक्सप्रेस-वे के झरना नाला के पास आज सुबह हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में कोटली कस्बा के आलोक भारती स्कूल से छात्र-छात्राओं का दल ताजमहल देखने जा रहा था. इस बीच यमुना एक्सप्रेस-वे पर हुए तेज रफ्तार बस का टायर फटने के बाद बस डिवाइडर पर

दिल्ली में एक केंद्रीय विद्यालय की बस में आग लगने की घटना सामने आई है. बस में सवार सभी 30 छात्रों को बचा लिया गया है. ये हादसा धौलाकुआं के पास हुआ है. बस ड्राइवर, कंडक्टर और अटेंडेंट ने वक्त रहते बस में से उठता धुआं देख लिया था. ड्राइवर ने तुरंत सूझबूझ दिखाते हुए बस को सड़क के किनारे लगाकर सभी बच्चों को वक्त रहते बाहर निकाल लिया. जानकारी मिली है कि घटना की जानकारी होते ही मौके पर 3 दमकल गाड़ियां पहुंची. तीनों गाड़ियों ने बस में लगी आग बुझाई. वहीं, राहगीरों ने भी बस के चालक और परिचालक

टोहाना के मुसाखेड़ा गांव में स्कूल बस पेड़ से जा टकराई। हादसे में 10 से ज्यादा छात्र घायल बताए जा रहे हैं, जिन्हें जाखल के सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं, स्कूल वैन चालक की हालत गंभीर बताई जा रही है। हादसे के वक्त स्कूल बस में बीस से ज्यादा बच्चे सवार थे। हादसे का कारण तेज रफ्तार बताई जा रही है।

मोहाली सुप्रीम कोर्ट द्वारा तमाम दिशा-निर्देशों के बावजूद छात्रों की सुरक्षा को लेकर स्कूल प्रबंधक सतर्क नजर नहीं आ रहे. वहीं, मोहाली में छात्रों की जिंदगी से खिलवाड़ करने की लापरवाही सामने आई है. यहां एक स्कूल वैन चालक नशे की हालत में ड्राइविंग कर रहा था और स्कूल वैन में छात्र बैठे थे, लेकिन चालक को इसकी परवाह नहीं थी. गनीमत ये रही कि स्थानीय लोगों ने रश ड्राइविंग करते देख ड्राइवर को पकड़ लिया और पूरे मामले की सूचना पुलिस को दे दी. जिसके बाद पुलिस ने ड्राइवर को हिरासत में ले लिया.. वहीं, लोगों से घिरे ड्राइवर ने माहौल बिगड़ते देख