नई दिल्‍ली सहयोगी पार्टी होने के बावजूद भाजपा की खिंचाई करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ने वाली शिवसेना ने आखिरकार गठबंधन तोड़ने की धमकी दे दी है। पार्टी नेता संजय राउत ने सोमवार कहा कि पार्टी जल्‍द ही इस पर फैसला लेगी। पार्टी की बैठक के बाद सरकार पर निशाना साधते हुए राउत ने कहा कि अभी तक महंगाई और किसानों के मुद्दे अनसुलझे हैं। हम इसके लिए जिम्‍मेदार नहीं हैं और यह हम साझा भी नहीं करना चाहते हैं। वहीं यह भी कहा कि हम सरकार में रहेंगे या अलग हो जाएंगे, इस पर जल्‍द फैसला हो जाएगा। गौरतलब है कि

अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले को लेकर शिवसेना ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने खुद अपने भाषण में इस मुद्दे को लेकर कई बार सरकार पर तीखे व्यंग्य किए. उन्होंने ये भी कहा कि क्या आतंकियों को इसलिए छोड़ दिया, क्योंकि उनके बैग में गोमांस नहीं था? शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को मुंबई में दिए अपने भाषण में अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले को लेकर कई तीखी टिप्पणियां कीं. उन्होंने मोदी सरकार को घेरते हुए कहा कि अगर हिंदुत्ववादी सरकार भी अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले को रोक नहीं पा रही, तो