राजधानी शिमला सहित प्रदेश के कई क्षेत्रों में जमकर बारिश हुई। इधर, मनाली में ताजा हिमपात हुआ। मकरवे, शिकरवे, मनाली पीक, लद्दाखी पीक, सेवन सिस्टर पीक, हनुमान टिब्बा तथा देउ टिब्बा में ताजा बर्फबारी हुई है। इससे मौसम ठंडा हो गया है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने शनिवार को प्रदेश के कई क्षेत्रों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। 25 सितंबर से प्रदेश में मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है। शुक्रवार को शिमला में अधिकतम तापमान 20.2, धर्मशाला में 27.8, ऊना में 34.8, नाहन में 25.7, कांगड़ा में 31.0, सोलन में 24.0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। चंबा में 30.4, डलहौजी

पर्यटन नगरी मनाली में शुक्रवार को बारिश व ऊंची पहाड़ियों में गिर रहे बर्फ के फाहों से मौसम कूल-कूल हो गया है. शुक्रवार रोहतांग दर्रे सहित धुंधी जोत, मकरवेद व शिकरवेद की पहाडिय़ों, मनालसू जोत, हनुमान टिब्बा, इंद्र किला, नग्गर की पहाडिय़ों सहित हामटा जोत ने भी बर्फ की चांदी का श्रृंगार कर लिया है. मनाली में हुई बारिश से पारा लुढ़क गया है. पिछले कुछ दिन से घाटी में धूप खिलने से पारा चढ़ने लगा था लेकिन शुक्रवार को मौसम के बदले तेवरों ने घाटी का मौसम कूल-कूल कर दिया है. इससे मनाली में सैलानियों की आमद लगातार बढ़ रही

पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से हिमाचल में रविवार को झमाझम बारिश हुई। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और मैदानी क्षेत्रों में बारिश तथा ओलावृष्टि होने से प्रदेश के तापमान में भी गिरावट आई है। सूबे में बदले मौसम के मिजाज से मैदानी इलाकों में गर्मी से झुलस रहे लोगों ने भी राहत की सांस ली है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने सोमवार और मंगलवार को भी प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में बारिश होने का पूर्वानुमान जताया है।