सुखपाल खैरा को पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है। सुखपाल खैरा के खिलाफ जारी नॉन बेलेबल वारंट पर पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने स्टे लगा दिया है। फाजिल्का कोर्ट ने इस मामले में सुखपाल खैरा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किए थे। हाईकोर्ट ने पंजाब सरकार को भी नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। इस मामले में अब हाईकोर्ट में नौ नवंबर को सुनवाई होगी।

फाजिल्का कोर्ट ने ड्रग्स मामले में पकड़े गए गुरदेव सिंह सहित नौ लोगों को कैद की सजा सुनाई है। कांग्रेस के विधायक राजकुमार वेरका का कहना है कि कोर्ट ने इस मामले में आप नेता व पंजाब के नेता प्रतिपक्ष सुखपाल खैहरा को भी 30 नवंबर को पेश होने के लिए समन जारी किया है। वेरका ने मामले में खैहरा का नाम आने पर उनसे इस्तीफा देने की मांग की है। वेरका ने कहा कि आप क्रिमिनल लोगों की पार्टी है। आपको बता दें, फाजिल्का की अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संदीप कुमार जोसन की अदालत ने जलालाबाद में हेरोइन तस्करी के ढाई

पंजाब में आम आदमी पार्टी के विधायक सुखपाल खैरा नेता विपक्ष चुने जाने के बाद आज पार्टी विधायकों के साथ बैठक की। बैठक चंडीगढ़ स्थित पंजाब भवन हुई और इस दौरान सुखपाल खैरा विधायकों के साथ प्रदेश की कांग्रेस सरकार को घेरने की रणनीति बनाई।

आम आदमी पार्टी के वरिष्‍ठ विधायक सुखपाल खैरा ने सांसद और पार्टी प्रधान भगवंत मान जैसी गलती ही शुक्रवार को कर दी. उन्‍होंने विधानसभा की मोबाइल पर वीडियो बनाकर फेसबुक पर डाल दी. इस बारे में विधानसभा स्‍पीकर काे जानकारी मिली तो उन्‍हें सदन की मर्यादा के हनन के आरोप में पूरे बजट सत्र के लिए सस्पेंड कर दिया गया. इस दौरान उन्होंने दिखाया कि कैसे कांग्रेसी अौर अकाली बहस कर रहे हैं. उन्होंने स्टेटस में लिखा कि देखें कि कैसे अकालियों  और कांग्रेसियों ने पंजाब विधानसभा को पंचायत से भी बुरा स्थान बना दिया है और आपस में लड़ कर सदन