विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अमेरिका स्थित भारतीय दूतावास से वाशिंगटन राज्य में एक सिख लड़के की कथित पिटाई के मामले में रिपोर्ट मांगी है. खबरों के मुताबिक वाशिंगटन में 14 साल के एक सिख लड़के को उसके सहपाठी ने घूंसे मारे और उसे जमीन पर पटक दिया. सिख लड़के के पिता का दावा है कि उसके बेटे को इसलिए निशाना बनाया गया क्योंकि वह भारतवंशी है. विदेश मंत्री ने मांगी रिपोर्ट सुषमा ने ट्वीट किया, ‘मैंने अमेरिका में सिख लड़के की पिटाई के बारे में खबरें देखी हैं. मैंने अमेरिका में भारतीय दूतावास से घटना के संबंध में रिपोर्ट भेजने के लिए

अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन 3 दिवसीय भारत दौरे पर हैं. आज नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात करेंगे. लेकिन भारत आने से पहले टिलरसन ने पाकिस्तान को सख्त शब्दों में हिदायत दे दी है. उन्होंने पाकिस्तान के शीर्ष नेतृत्व को सख्त शब्दों में कहा कि उन्हें देश में सक्रिय आतंकवादियों के खात्मे के लिए और प्रयास करने होंगे. टिलरसन मंगलवार रात को नई दिल्ली पहुंचे हैं. मंगलवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी के साथ मुलाकात में टिलरसन ने द्विपक्षीय सहयोग और साझेदारी, अमेरिका और पाकिस्तान के बीच आर्थिक संबंधों को बढ़ाने

वाशिंगटन अमेरिका ने रोहिंग्या मुस्लिमों के मुद्दे को लेकर म्यांमार सेना पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। अमेरिका की ओर से म्यांमार सेना के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नॉर्ट ने बताया कि अमेरिका म्यांमार की उन इकाइयों और अधिकारियों को दी जा रही सहायता रोकेगा, जो रखाइन में हुई हिंसा में शामिल थे। इसके अतिरिक्त इनपर कार्रवाई के लिए आर्थिक विकल्प पर भी विचार किया जा रहा है। अमेरिका ने म्यांमार सेना के वरिष्ठ अधिकारियों की ओर से अमेरिका प्रायोजित कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए दिए गए सारे आवेदनों

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अमेरिका के टेक्सास में तीन साल की भारतीय लड़की के लापता होने पर चिंता जताई है. खबरों के अनुसार शेरिन मैथ्यूज नाम की बच्ची उस वक्त से लापता है जब उसके पिता ने दूध नहीं पीने पर उसे घर के बाहर खड़ा कर दिया था. यह घटना बीते शनिवार की है. सुषमा ने ट्वीट किया, ‘‘हम बच्ची के लापता होने से बहुत दुखी हैं. अमेरिका में भारतीय दूतावास सक्रिय है और वे मुझे जानकारी दे रहे हैं.’’ इस बच्ची को एक अमेरिकी दंपति ने पिछले साल बिहार के नालंदा से गोद लिया था.

ईरानी परमाणु समझौते में बना रहना अमेरिका के हित में हैं ये कहना है अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन का. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप भी उनकी इस बात से सहमत हैं. वाइट हाउस से शुक्रवार को दिए गए एक तल्ख भाषण में ट्रंप ने ईरान को मतांध शासन बताते हुए कहा था कि इस देश ने परमाणु समझौते का उल्लंघन किया है. ट्रंप ने घोषणा की थी कि वह कांग्रेस में इस समझौते को प्रमाणपत्र देना जारी नहीं रखेंगे लेकिन उन्होंने उससे अमेरिका के तत्काल हटने से इनकार किया और इसे कांग्रेस के ऊपर छोड़ दिया. हालांकि ट्रंप

तेहरान ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी ने आज कहा कि उनके देश के खिलाफ अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आक्रामक रणनीति यह दिखाती है कि अमेरिका ‘‘परमाणु समझौते के अपने विरोध में अलग-थलग पड़ गया है.’’ट्रंप ने व्हाइट हाउस में काफी समय से प्रत्याशित भाषण में 2015 के परमाणु समझौते के लिए अपना समर्थन ‘‘वापस’’ ले लिया और इसकी किस्मत का फैसला कांग्रेस पर छोड़ दिया. रुहानी ने कहा, ‘‘आज अमेरिका परमाणु समझौते के अपने विरोध और ईरानी लोगों के खिलाफ अपने मंसूबों में सबसे ज्यादा अलग थलग पड़ा है. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘आज जो भी सुना गया वे केवल बेबुनियाद

अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा कि अमेरिका ने उत्तर कोरिया के साथ संवाद का रास्ता खोल दिया है. इसकी जांच की जा रही है कि क्या उत्तर कोरियाई शासन अपने परमाणु हथियार कार्यक्रम को खत्म करने के लिए बातचीत को तैयार है. टिलरसन का यह बयान उस वक्त आया है जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन के बीच जुबानी जंग काफी बढ़ गई है. अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा, हम जांच कर रहे हैं इसलिए आप नजर बनाए रखें. प्योंगयांग के साथ हमारा कई तरह से संपर्क बना हुआ है. हम अंधेरे की

अमेरिका के स्वास्थ्य मंत्री टॉम प्राइस के इस्तीफा देने के बाद अब मीडिया में दो भारतीय अमेरिकियों के उनकी जगह लेने की चर्चा है. आधिकारिक यात्रा पर महंगे निजी विमान के इस्तेमाल के आरोपों के बीच प्राइस ने शुक्रवार को इस्तीफा दिया. प्राइस ने इस्तीफा देते हुए कहा था कि उन्हें अफसोस है कि हालिया घटनाओं ने उनके स्वास्थ्य विभाग के लिए किए सभी कामों से ध्यान हटा दिया. मई तक 26 निजी विमानों का इस्तेमाल करने के मामले में प्राइस माफी भी मांग चुके हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, प्राइस पर आधिकारिक यात्राओं के लिए महंगे चार्टर्ड विमान का इस्तेमाल करने

वाशिंगटन व्हाइट हाउस ने रविवार को साफ कर दिया कि पेरिस जलवायु समझौते को लेकर उसके रुख में कोई बदलाव नहीं आया है। मीडिया में आ रही खबरों को खारिज करते हुए ह्वाइट हाउस ने कहा कि अमेरिका ने जलवायु समझौते पर कोई नरमी नहीं दिखाई है। वह इससे बाहर आएगा और समझौते में वापसी तभी करेगा जब इसकी शर्ते अमेरिका के हितों के अनुकूल होंगी। ह्वाइट हाउस का यह बयान उन खबरों पर आया है, जिनमें कहा जा रहा था कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मांट्रियल में विचार-विमर्श के दौरान समझौते में बने रहने की घोषणा कर सकते हैं। ह्वाइट हाउस की

डोनाल्ड ट्रंप दुनिया के सबसे ताकतवर मुल्क के राष्ट्रपति हैं. जाहिर हैं इस नाते वह दुनिया के सबसे ताकतवर व्यक्तियों में भी शुमार हैं. फिर भी जिन बातों को लेकर ट्रंप आए दिन चर्चा में रहते हैं, वो कुछ और ही कहानी बयां करती हैं. अब रियलिटी टीवी स्टार किम कर्दशियां की उनके बारे में की गई हालिया टिप्पणी को ही ले लीजिए. किम ने अमेरिकी राष्ट्रपति के बारे में ऐसा बयान दिया है कि आप हैरान रह जाएंगे.दरअसल उन्होंने कहा है कि उनकी चार साल की बेटी नॉर्थ वेस्ट अमेरिका को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से ज्यादा बेहतर ढंग से चला सकती है.