विश्वविद्यालय परिसर के भीतर गुरुवार को एक छात्रा से कथित छेड़खानी ने बीएचयू की छात्राओं में आक्रोश भर दिया है. बीएचयू की एक छात्रा आकांक्षा गुप्ता का कहना है, "छेड़खानी की घटना एक दिन की नहीं है. ये आए दिन होती रहती है." उन्होंने कहा, "विश्वविद्यालय प्रशासन से शिकायत करने पर उल्टा हमसे सवाल पूछा जाता है कि रात में या बेतुके टाइम में बाहर निकलती ही क्यों हो?" आकांक्षा गुप्ता का कहना था कि छेड़खानी और विश्वविद्यालय प्रशासन के इस रवैये के विरोध में उसने पिछले एक महीने से अपने सिर को मुंडवा रखा है. शुक्रवार को शहर में प्रधानमंत्री के वाराणसी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दो दिनों के दौरे पर रहेंगे. इस दौरान वह कई इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करेंगे. साथ ही पीएम कई सभाएं भी करेंगे. प्रधानमंत्री जुलाहों और हथकरघा उद्योग में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए ट्रेड सेंटर के दूसरे चरण की शुरुआत करेंगे. साथ ही प्रधानमंत्री वाराणसी से वडोदरा जाने वाली तीसरी महामाना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे.  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में तीसरी महामना एक्सप्रेस को हर हरी झंडी दिखाएंगे. पीएम 22 सितंबर को रिमोट कंट्रोल के जरिए यूपी और गुजरात के बीच इस नई ट्रेन की शुरुआत करेंगे. इसके बाद महामना एक्सप्रेस वडोदरा स्टेशन से वाराणसी के लिए रवाना होगी. रेलवे ने पहली महामना ट्रेन 2016 में वाराणसी से नई दिल्ली के बीच शुरू की थी. वाराणसी-बड़ोदरा महामना एक्सप्रेस 1,531 किलोमीटर के सफर को 27 घंटे में पूरा करेगी. रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक यह ट्रेन साप्ताहिक होगी और 55.7 किलोमीटर प्रतिघंटे की औसत स्पीड से सफर करेगी. इस ट्रेन में कुल 18

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दो दिनों के दौरे पर जाएंगे. पीएम का ये दौरा 22-23 सितंबर को है. मोदी 22 सितंबर को वाराणसी पहुंचेगे और इस दौरान वह करोड़ों की योजनाओं का लोकार्पण भी करेंगे. वाराणसी की जनता के 846.50 करोड़ की सौगात देंगे. 17 परियोजनाओं का लोकार्पण और 6 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे. इसके अलावा मोदी वाराणसी की जनता के साथ संवाद करने के साथ-साथ शहंशाहपुर के किसानों को भी संबोधित करेंगे.

उत्तर प्रदेश के वाराणसी की सड़कों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लापता होने के पोस्टर लगाए गए हैं. पीएम मोदी वाराणसी संसदीय क्षेत्र से ही सांसद हैं. दीवारों पर चिपकाए गए इन पोस्टरों में लिखा है कि लापता वाराणसी सांसद. साथ में पीएम मोदी की तस्वीर लगी है. इनमें पीएम मोदी को संबोधित करते हुए नारा लिखा है- 'जाने वह कौन सा देश जहां तुम चले गए.' हालांकि इन पोस्टर को लगाने वाले का नाम नहीं लिखा है. पोस्टर के सबसे नीचे निवेदक में लिखा है- लाचार, बेबस एवं हताश काशीवासी. वहीं, वाराणसी में पीएम मोदी के लापता होने के पोस्टर

गना रनौत ने गुरुवार को वाराणसी में अपनी अपकमिंग फिल्म 'मणिकर्णिका-द क्वीन ऑफ झांसी' का 20 फुट ऊंचा पोस्टर लॉन्च किया। कंगना के साथ प्रसून जोशी और शंकर-एहसान-लाय भी मौजूद रहे। [embed]https://twitter.com/V6_Suresh/status/860125537846648832[/embed] वीडियो देखने के लिए क्लिक करें [caption id="attachment_29071" align="alignnone" width="600"] फिल्म मणिकर्णिका का पोस्टर[/caption] बता दें, इस फिल्म के प्रमोशन के लिए वाराणसी को इसलिए चुना गया है, क्योंकि रानी लक्ष्मीबाई का जन्म काशी में ही वर्ष 1828 में भदैनी क्षेत्र में हुआ था।