आज कल जब देश में बड़े अफसरों के बेटे भी आर्मी ज्वाइन नहीं करना चाहते, उस दौर में यूपी सीएम के भाई सेना में नौकरी कर रहे हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के छोटे भाई शैलेन्द्र मोहन इंडियन आर्मी में सूबेदार हैं. शैलेन्द्र को गढ़वाल स्काउट इकाई में माना बॉर्डर के पास तैनात किया गया है. यहां पहाड़ी सीमाओं की रक्षा के लिए सैनिकों के रूप में केवल स्थानीय लोगों को रोजगार दिया जाता है. यह पूछने पर कि क्या उनके बड़े भाई (योगी) से उनकी मुलाकात होती है. इस पर उन्होंने कहा कि योगी के यूपी के मुख्यमंत्री

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सोमवार को लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा देंगे. योगी 8 सितंबर को यूपी विधान परिषद के लिए निर्विरोध चुने गए थे. सीएम योगी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे. यह मुलाकात पीएम मोदी के आवास पर होगी. जानकारी के मुताबिक योगी पिछले 7 महीनों के अपने काम का ब्यौरा भी प्रधानमंत्री के सामने पेश करेंगे. वहीं किसान की कर्ज माफी को लेकर कितना काम हुआ है इसके बारे में भी सीएम पीएम को बताएंगे. योगी ने अपने काम का ब्यौरा देने के लिए कैबिनेट में हुए बड़े फैसलों की एक सूची तैयार की है.

उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार राज्‍य में चल रहे मदरसों को लेकर नए- नए कदम उठा रही है. 15 अगस्‍त के मौके पर राज्‍य सरकार ने प्रदेश में संचालित होने वाले सभी मदरसों को तिरंगा फहराने का आदेश दिया था. साथ ही स्‍वतंत्रता दिवस के पूरे कार्यक्रम की वीडियोग्राफी करने का भी आदेश दिया था. सरकार के इस कदम का मुसलिम संगठनों की तरफ से विरोध भी किया गया था. मुसलिम संगठनों ने कहा था इस आदेश को जारी करने से ऐसा लगता है कि सरकार हम पर शक कर रही है. इसके बाद गुरुवार को योगी सरकार की तरफ

दिल्ली पुलिस को मिली एक कॉल से पुलिस महकमे के हाथ-पांव फूल गए. यह कॉल एक धमकी भरा कॉल था, जिसमें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मारने की धमकी मिली थी. धमकी मिलते ही दिल्ली से लेकर यूपी तक हड़कंप मच गया. फोन पर अज्ञात शख्स ने योगी को बचाने के लिए पुलिस को एक घंटे का समय भी दिया. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल इस मामले की जांच कर रही है. मिली जानकारी के मुताबिक, गुरुवार दोपहर लगभग तीन बजे दिल्ली पुलिस कंट्रोल रूम में एक फोन आया. फोन रिसीव करने पर दूसरी तरफ से बात कर रहे शख्स

71वें स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर सीएम योगी आदित्यनाथ पूरे देशवासियों को बधाई दी. उन्होंने ट्विटर के जरिए बधाई दी. सीएम योगी ने विधानसभा के मुख्य द्वार पर स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण किया तथा आयोजित कार्यक्रम को संबोधित किया. आज लखनऊ में विधानसभा के मुख्य द्वार पर स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण किया तथा आयोजित कार्यक्रम को संबोधित किया। #IndiaIndependenceDay pic.twitter.com/RHbLcmlYTO — Yogi Adityanath (@myogiadityanath) August 15, 2017 प्रभातफेरियां नागरिक सुरक्षा संगठन और स्कूल-कालेजों की ओर से 15 अगस्त की सुबह से शहर और गांवों में प्रभात फेरी निकाली जाएगी। शहर के प्रत्येक चौराहे पर देशभक्ति के गीतों का प्रसारण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या के दौरे पर हैं. दौरे के साथ ही राम मंदिर निर्माण पर भाजपा सरकार की कवायदों पर फिर से चर्चा शुरू हो गयी है. अयोध्या में सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या ने देश को एक पहचान दी है. सीएम योगी ने कहा कि मैं पहले रामभक्त हूं. उन्होंने कहा कि सकारात्मक राजनीति से ही राम मंदिर मुद्दे का हल निकलेगा. योगी ने कहा कि अयोध्या देश की पहचान है, मैं बार-बार अयोध्या आता रहूंगा. अयोध्या ने देश को पहचान दी है, मैं पहले एक राम भक्त हूं. सकारात्मक राजनीति से ही राम मंदिर

लखनऊ : उत्‍तर प्रदेश विधानसभा में विस्‍फोटक (PETN) मिलने के मामले की जांच एनआईए (NIA) करेगी. स्‍पीकर हृदय नारायण दीक्षित ने कहा कि सदन के अंदर विस्‍फोटक लाना देश को अपमानित करने जैसा है. उन्‍होंने मामले की जांच एनआईए से कराने की सिफारिश की. उन्‍होंने कहा कि विधानसभा के सभी गेटों पर क्विक रिस्‍पांस टीम (QRT) तैनात की जाएगी. उन्‍होंने कहा कि विधानसभा के सभी एंट्री गेट पर बॉडी स्‍कैनर लगाए जाएंगे। साथ ही सुरक्षा के लिहाज से सभी पूर्व विधायकों के पास रदद किए जाएंगे. उन्‍होंने बताया कि विधायक के ड्राइवर के भी पास बनाए जाएंगे. पूरे विधानसभा भवन में एटीएस भी तैनात

ऊना: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस ने देश को जाति, धर्म तथा क्षेत्रवाद में बांटने का काम किया है. कांग्रेस के नेता राहुल गांधी पर देश के लोगों को विश्वास नहीं हैं. हिमाचल प्रदेश के ऊना में हमीरपुर संसदीय क्षेत्र की भाजपा की परिवर्तन रथ यात्रा के समापन पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस की नीतियों से देश का आम आदमी दुखी था. अब भाजपा के शासनकाल में देश में तीन साल में जनहित के कार्य हुए हैं और देश की जनता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्वास पैदा किया है. योगी ने कहा कि विमुद्रीकरण

कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक और बड़ा फैसला लिया है. मुख्यमंत्री ने पुलिस महकमें में बड़ा फेरबदल करते हुए 12 एसपी और 41 आईपीएस का तबादला कर दिया. एडीजी आनंद कुमार को एडीजी कानून-व्यवस्था बनाया गया है. उन्हें आदित्य मिश्र की जगह नियुक्त किया गया है. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने 12 जिलों के पुलिस अधीक्षकों का तबादला भी कर दिया है. इनमें मुरादाबाद, मेरठ, वाराणसी, पीलीभीत, बलरामपुर, रायबरेली, पीलीभीत, सुल्तानपुर, कौशांबी, बांधा, मथुरा और जालौन के एसपी शामिल हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हटाए गए अधिकारियों में 7 डीजी और 6

पिछले महीने उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में हुई जातीय हिंसा की उत्तर प्रदेश सरकार ने जांच रिपोर्ट गृह मंत्रालय को सौंप दी है. रिपोर्ट में कहा गया है कि सहारनपुर में जातीय हिंसा एक बड़ी साजिश का परिणाम थी. साथ ही इस रिपोर्ट में भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर को मुख्य साजिश रचने वाला बताया है. सरकार की इस रिपोर्ट में हिंसा के पीछे चंद्रशेखर के साथ साथ 35 लोगों का हाथ बताया है. इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि हिंसा ना रोक पाने के पीछे दो अफसरों की लापरवाही भी सामने आई है. रिपोर्ट में कहा गया