1 सितंबर से ऑनलाइन टिकट बुक करना हुआ महंगा, 40 रुपए तक ज्यादा होंगे खर्च

0
103
views

नई दिल्ली। रेल यात्रियों के लिए बड़ी खबर है, 1 सितंबर 2019 से अब आपका ट्रेन का सफर महंगा हो जाएगा. भारतीय रेलवे ने इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) से खरीदे जाने वाले ई-टिकट पर सर्विस चार्ज दोबारा से लागू कर दिया गया है.

  • सर्विस चार्ज के दोबारा लागू होने से ट्रेन यात्रियों का IRCTC से ऑनलाइन ट्रेन टिकट बुक कराना महंगा हो जाएगा
  • यानी अब रेल यात्रियों को IRCTC से ऑनलाइन ट्रेन टिकट रिजर्वेशन कराने पर ज्यादा रुपये खर्च करने होंगे
  • IRCTC ई-टिकट बुक करने पर 20 रुपये से 40 रुपये तक का सर्विस चार्ज लगाएगा

कितना हुआ महंगा ऑनलाइन रेल टिकट

  • IRCTC की ओर से जारी बयान के अनुसार, सर्विस चार्ज लागू होने के बाद AC टिकट खरीदने पर 30 रुपए और नॉन AC टिकट खरीदने पर 15 रुपए ज्यादा खर्च करने होंगे
  • इसके अलावा इस खर्च पर GST अतिरिक्त देना होगा
  • अब स्लीपर ई-टिकट पर 20 रुपए का सर्विस चार्ज देना होगा
  • AC क्लास के ई-टिकट पर 40 रुपए का सर्विस चार्ज चुकाना होगा
  • स्लीपर के लिए BHIM एप से पेमेंट करने पर 10 रुपए सर्विस चार्ज लगेगा
  • AC के लिए BHIM एप से पेमेंट करने पर 20 रुपए सर्विस चार्ज देना होगा
  • आपको बता दें कि नवंबर 2016 में नोटबंदी के बाद मोदी सरकार की ओर से डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए ई-टिकट पर लगने वाला सर्विस टैक्स वापस ले लिया गया था
  • कहा गया था कि इससे ई-टिकट को बढ़ावा मिलेगा, कुछ हद तक ई-टिकट का चलन भी बढ़ा है
  • रेलवे अफसरों के मुताबिक इस वक्त रोज जारी होने कुल रिजर्वेशन टिकट में ई-टिकट की हिस्सेदारी लगभग 55 से 60 फीसदी है
  • साल 2016 में ई-टिकट रोजाना कुल जारी होने वाले टिकट का 35 से 40 फीसदी था
  • रेलवे के रिकॉर्ड के मुताबिक देश भर में करीब 11 से 12 लाख रिजर्वेशन टिकट रोज जारी होते हैं.

रेलवे बोर्ड ने दी थी अनुमति

इस महीने की शुरुआत में रेलवे बोर्ड ने IRCTC को ऑनलाइन टिकट की बुकिंग पर यात्रियों से सर्विस चार्ज दोबारा वसूलने की अनुमति प्रदान कर दी थी. बोर्ड की ओर से IRCTC को 30 अगस्त को जारी किए गए पत्र में कहा गया था कि संबंधित प्राधिकरणों ने इस मामले में पूरी जांच कर ली है. पत्र में कहा गया था कि वित्त मंत्रालय भी कह चुका है कि सर्विस चार्ज को खत्म करने की व्यवस्था अस्थायी है और रेल मंत्रालय इसे फिर से शुरू कर सकता है. अधिकारियों के अनुसार, सर्विस चार्ज बंद होने के बाद IRCTC की इंटरनेट टिकटिंग से होने वाली कमाई में 26 फीसदी की गिरावट हुई है.