क्या फिर महाबोधि मंदिर को दहलाने की साजिश थी, जानिए

0
123
views

बिहार में बोधगया के महाबोधि मंदिर को एक बार फिर से दहलाने की साजिश को पुलिस ने नाकाम कर दिया है. पुलिस ने मंदिर परिसर से दो जिंदा बम बरामद किए हैं. एक बम महाबोधि मंदिर परिसर के पास कालचक्र मैदान के पास मिला. ये बम कालचक्र मैदान के 4 नंबर गेट के पास रखा था. दूसरा बम तिब्बत मंदिर के पास रखा हुआ था. बम की जानकारी मिलने के बाद तुरंत बम निरोधक दस्ता बुलाया गया. बम स्क्वॉड ने बम को अपने कब्‍जे में ले लिया और उसे डिफ्यूज करने के लिए फल्गु नदी के किनारे ले जाया गया.

आपको बता दें कि तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा इस समय बोधगया में ही मौजूद हैं. दलाई लामा 2 जनवरी से शुरु महाबोधि मंदिर में हो रहे विशेष पूजा-अर्चना में हिस्सा लेने पहुंचे हैं. आशंका थी कि कहीं कुछ और बम ना प्लांट किए गए हों इसलिए महाबोधि मंदिर के आस-पास के चप्पे-चप्पे की तलाशी की गई. महाबोधि मंदिर और दलाई लामा के निवास वाले जगह की सुरक्षा और बढ़ा दी गयी है.

फिलहाल बिहार के बोधगया में महाबोधि मंदिर के पास बम प्लांट करने के मामले में पुलिस को दो संदिग्धों पर शक है. ये दो संदिग्ध सीसीटीवी फुटेज में दिखाई पड़े हैं. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस अपनी जांच को आगे बढ़ा रही है.

13 जुलाई 2013 को आंतकियों ने महाबोधि मंदिर के कई जगहों पर एक के बाद एक 9 धमाके किये थे. उस हमले में दो लोग घायल हुए थे और अब साढ़े चार साल बाद वहां बम बरामद हुए हैं। मंदिर पर ख़तरे को देखते हुए पिछले साल इसकी सुरक्षा का जिम्मा CISF को दे दिया गया था और अब बम मिलने के बाद सुरक्षा और कड़ी की जाएगी.