संगरूर : बोरवेल में गिरे फतेहवीर की मौत, प्रशासन के खिलाफ लोगों में नाराजगी

0
240
views

पंजाब के संगरूर जिले में 125 फीट गहरे बोरवेल में फंसे 2 साल के बच्चे फतेहवीर को मंगलवार की सुबह करीब 109 घंटे के बाद बाहर निकाल लिया गया. फतेहवीर को बोरवेल से निकालने के बाद चंडीगढ़ PGI ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया. बता दें, संगरूर जिले के भगवानपुरा गांव में 2 साल का बच्चा फतेहवीर सिंह गुरुवार की शाम करीब 4 बजे अपने घर के पास खेलते वक्त बोरवेल में जा गिरा था. करीब 7 इंच की चौड़ाई वाला बोरवेल एक कपड़े से ढका हुआ हुआ था, बच्चा खेलते-खेलते अचानक इस गड्ढे में जा गिरा

बच्चे की मां ने उसे बचाने की काफी कोशिश की, लेकिन वह असफल रही. जानकारी के मुताबिक बोरवेल कपड़े से ढका हुआ था इसलिए बच्चा दुर्घटनावश उसमें गिर गया. इसके बाद बच्चे को बाहर निकालने के लिए व्यापक स्तर पर एक बचाव अभियान चलाया गया. अधिकारी बच्चे तक ऑक्सीजन पहुंचाने में तो सफल रहे लेकिन वे उस तक खाना-पीना नहीं पहुंचा पाए थे. बच्चे को बचाने के लिए बोरवेल के पास एक दूसरा बोरवेल खोदा गया था और उसमें कंक्रीट के बने 36 इंच व्यास के पाइप डाले गए थे.

अस्पताल कर्मचारी के मुताबिक फतेहवीर को मृत हालत में PGI लाया गया था, उसके मुताबिक फतेहवीर की मौत दो दिन पहले ही हो गई थी. वहीं फतेहवीर की मौत के बाद उसके परिवार में शोक का माहौल है, वहीं भगवानपुरा और चंडीगढ़ PGI के बाहर प्रशासन की लापरवाही से नाराज लोग प्रदर्शन और नारेबाजी कर रही हैं. पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने फतेहवीर सिंह की मौत पर दुख जताया है.