आयोध्या विवाद: श्री श्री से मुलाकात के बाद बोले रिजवी, 2018 में मंदिर निर्माण होगा शुरू

0
321
views

आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर और शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने अयोध्या विवाद को अदालत के बाहर सुलझाने के लिए मंगलवार को बेंगलुरु में मुलाकात की. मुलाकात के बाद वसीम रिजवी ने कहा कि विवादित भूमि पर ही मंदिर बनाया जाएगा. उन्होंने कहा कि विवाद को सुलझाने के लिए बातचीत आगे बढ़ चुकी है और 2018 में मंदिर कर निर्माण शुरू हो जाएगा.

रिजवी ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि राम मंदिर अयोध्या में राम जन्मभूमि पर ही बनना चाहिए. उन्होंने कहा कि कोर्ट में इस मामले में शिया वक्फ बोर्ड भी पार्टी है क्योंकि बाबरी मस्जिद शिया मस्जिद थी. जब रिजवी से पूछा गया कि वह इतने सालों तक चुप क्यों थे तो उन्होंने कहा कि हम इतने दिन खामोश रहे तो इसका मतलब ये नहीं कि हमारा कोई अधिकार नहीं है.

शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा कि श्री श्री रविशंकर के साथ समझौते के क्या-क्या बिंदु होने चाहिए इस पर बातचीत चल रही है ताकि दोनों समाज को अपनी हार महसूस न हो. उन्होंने कहा कि श्री श्री के आने से उम्मीद है कि ये मसला हल हो जाएगा. उन्होंने कहा कि कुछ मुस्लमानों को छोड़कर सभी विवादित स्थल पर मंदिर बनाने को लेकर सहमत हैं. देश के पूरे मुसलमान हिंसा नहीं चाहते है. इस मुद्दे को बातचीत से सुलझाया जाना चाहिए.