नॉर्थ कोरिया पर आर्थिक प्रतिबंध और कड़े करेगा अमेरिका

0
126
views
वॉशिंगटन
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने रविवार को हालिया मिसाइल परीक्षण के बाद उत्तर कोरिया पर आर्थिक और कूटनीतिक दबाव और भी कड़ करने का फैसला किया है. इससे पहले उत्तर कोरिया के जापान के ऊपर से मिसाइल दागने के 2 दिन बाद ट्रंप ने फोन पर दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति जाए इन मून से बातचीत की. ट्रंप और मून ने प्रतिरोधक और रक्षा क्षमताओं को मजबूत बनाने और उत्तर कोरिया पर आर्थिक और कूटनीतिक दबाव को अधिकतम करने के प्रति प्रतिबद्धता जताई.
दोनों नेताओं के बीच हुई बातचीत के बाद दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति कार्यालय के प्रवक्ता पार्क सु ह्येन ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा, दोनों नेताओं ने आपसी सहयोग को और मजबूत करने तथा उत्तर कोरिया पर मजबूत और व्यावहारिक प्रतिबंधों को लागू करने पर सहमति जतायी ताकि उसे एहसास हो कि उकसाऊ हरकतों से राजनयिक अलगाव और आर्थिक दबाव और बढ़ जाता है.
ट्रंप ने ट्विटर पर किम जोंग को ‘रॉकेट मैन’ कहते हुए लिखा, मैंने पिछली रात दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून से बात की. उनसे कहा कि रॉकेट मैन जो कर रहा है, काफी गलत है. वहीं अमेरिका और उसके सहयोगी देशों के अधिकारियों द्वारा प्योंगयांग को काबू में करने के तरीके खोजने के बीच, अमेरिकी राष्ट्रपति मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे और बैठक के इतर गुरुवार को जापान और दक्षिण कोरिया के अपने समकक्षों से मिलेंगे.
संयुक्‍त राष्‍ट्र में अमेरिकी राजदूत निक्‍की हेली ने चेतावनी भरे अंदाज में कह दिया है कि कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु मुद्दे पर संयुक्‍त राष्‍ट्र के सभी विकल्‍प खत्‍म हो गए हैं। उन्‍होंने एक इंटरव्यू में कहा कि हम इस मामले में सुरक्षा परिषद में जो कुछ कर सकते थे, वो सारे विकल्‍प लगभग खत्‍म हो चुके हैं। वहीं उन्‍होंने आगे चेतावनी भरे अंदाज में कहा कि हम में से कोई भी युद्ध नहीं चाहता है। मगर परमाणु मुद्दे पर कूटनीति विफल होने की स्थिति में अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस इस पर ध्‍यान देंगे।