प. बंगाल में BJP ने बदली रणनीति, पंचायत चुनाव में 850 मुस्लिमों को टिकट

0
574
views

पश्चिम बंगाल में बीजेपी ने अपनी रणनीति में बदलाव करते हुए आगामी पंचायत चुनाव के लिए अपने उम्मीदवार घोषित किए हैं. बीजेपी ने इन चुनावों में मुस्लिमों को ज्यादा टिकट देकर लुभाने की कोशिश की है. ग्रामीण क्षेत्रों में 14 मई को होने वाले चुनाव में बीजेपी ने 850 से भी ज्यादा मुस्लिमों को अपना उम्मीदवार बनाया है.

यह आंकड़ा अब तक का सबसे अधिक है. बीजेपी ने साल 2013 में सबसे ज्यादा करीब 100 मुस्लिम उम्मीदवारों को पंचायत चुनाव में अपना प्रत्याशी बनाया था. साल 2016 के विधानसभा चुनावों में भी बीजेपी ने महज छह अल्पसंख्यकों को ही मैदान में उतारा था.

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष का कहना है कि पार्टी ने राज्य में करीब 2,000 अल्पसंख्यक लोगों को उम्मीदवार बनाया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी पश्चिम बंगाल में ही नहीं, पूरे देश में सबका साथ-सबका विकास के साथ काम कर रही है. यहां के मुस्लिम भी जानते हैं कि बीजेपी सभी के विकास में विश्वास रखती है. घोष ने कहा कि हमने टिकट धर्म या जाति के आधार पर नहीं बल्कि ‘जीतने की क्षमता’ के आधार पर दिए हैं.

हालांकि अल्पसंख्यक समुदाय तक बीजेपी की पहुंच की कोशिश को सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस खास महत्व नहीं दे रही. तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पार्थ चटर्जी ने कहा कि सत्तारूढ़ पार्टी टीएमसी पर अल्पसंख्यकों को पूर्ण भरोसा है. उन्हें ममता बनर्जी पर भरोसा है. लेकिन बीजेपी जातिवाद की राजनीति करती है और वह राज्य में दंगों को बढ़ावा दे रही है.