सुप्रीम कोर्ट का आदेश- CBI के सामने पेश हों कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार

0
398
views

सीबीआई-कोलकाता पुलिस विवाद में सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई हुई. कोर्ट ने कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई के सामने पेश होने का आदेश दिया. राजीव कुमार को शिलॉन्ग स्थित सीबीआई दफ्तर में पेश होना होगा. इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार शारदा घोटाले की जांच कर रही एसआईटी को सहयोग करें. हालांकि कोर्ट ने यह भी साफ किया कि राजीव को गिरफ्तार नहीं किया जाएगा. इस मामले में अब अगली सुनवाई बीस फरवरी को होगी.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान सीबीआई की ओर से अटॉर्नी जनरल ने दलील दी है कि इस मामले में एसआईटी ने जांच सही से नहीं की है. अटॉर्नी जनरल ने कहा कि जांच के दौरान टीएमसी से जुड़े लोगों की जांच नहीं की गई है, सीबीआई ने उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश की. समन के आधार पर हम एसआईटी के पास गए, क्योंकि सीबीआई को सभी दस्तावेज नहीं सौंपे गए थे. उन्होंने दावा किया कि जो सबूत सीबीआई को दिए गए वो अधूरे थे. साथ ही कॉल डिटेल की जानकारी भी नहीं दी गई थी.

इसके बाद चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि राजीव कुमार को पूछताछ का सामना करने में कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि ने आदेश दिया है कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई के सामने पेश होना चाहिए और उन्हें जांच में सहयोग करना चाहिए. हालांकि, इस दौरान सीबीआई राजीव कुमार को गिरफ्तार नहीं कर सकती है.

गौरतलब है कि रविवार को सीबीआई की टीम राजीव से पूछताछ करने कोलकाता पहुंची थी. कोलकाता पुलिस ने सीबीआई को ऐसा करने से रोक दिया था. सीबीआई की कार्रवाई को लेकर ममता बनर्जी धरने पर बैठ गई थीं. मामले पर सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी.