करनाल में लॉकडाउन का पहरा दे रहे फौजी पर हमला, 4 अन्य‍ युवक भी घायल

0
339
views

हरियाणा में कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन लागू है. कई जगह लोग लॉकडाउन का पालन कराने के लिए पहल कर रहे हैं. करनाल जिले के गांव बयाना में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए एक फौजी और कुछ युवक ठीकरी पहरा दे रहे थे. इसी दौरान कुछ लोगों ने उन पर हमला कर दिया और फौजी के दाहिने हाथ की अंगुलियां काट दी। हमले में चार अन्‍य युवक भी घायल हो गए.

हमलावरों का शिकार बना फौजी दिलबाग सिंह छुट्टी पर गांव आया हुआ है. फौजी दिलबाग सिंह श्रीनगर में तैनात है और 9 मार्च को छुट्टी पर आया था. उसे 28 मार्च को वापस जाना था, लेकिन लॉकडाउन के चलते उसकी छुट्टियां आगे बढ़ा दी गई थीं. गांव में कोरोना के कारण सरकार द्वारा लागू लॉकडाउन का पालन कराने के लिए ग्रामीण खुद पहल कर रहे हैं और गांव में बाहरी लोगों के प्रवेश को रोकने के लिए ठीकरी पहरा दे रहे हैं. इसके लिए युवकों की टीम बनाई गई.

इस टीम के सदस्‍य सामाजिक दूरी का ध्‍यान रखते हुए गांव के लोगों को लॉकडाउन तोड़ने से रोक रहे हैं. वे गांव में बाहरी लोगों को भी बेवजह आने से रोकते हैं. मंगलवार को इन युवकों के साथ फौजी दिलबाग सिंह भी गांव में पहरा दे रहा था. बताया जाता है कि इसी दौरान कुछ लाेग मोटरसाइकिलों पर गांव में घुसे. दिलबाग और अन्‍य युवकों ने उनको रोका और लॉकडाउन का पालन करने को कहा. इस पर विवाद हो गया और बाइकों पर आए लोगों ने ठीकरी पहरा दे रहे दिलबाग और अन्‍य लोगों पर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया.

हमलावरों ने फौजी दिलबाग सिंह के दाहिने हाथ की दो अंगुलियां काट दी. उनके हमले में रणवीर सिंह सहित चार युवक गंभीर रूप से घायल हो गया. घायल फौजी सहित सभी घायलों को कमाल पर एक निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया है. एक हमलावर को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया गया. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. पुलिस अन्‍य हमलावरों को पकड़ने के लिए छापेमारी कर रही है.