हिमाचल में प्रदेश सरकार अपने खर्च पर कराएगी 1 सितंबर से कोविड-19 टेस्ट

0
179
views

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार ने राज्यों को बड़ा झटका दिया है. अब केंद्र कोविड टेस्ट के लिए वित्तीय मदद नहीं करेगी. राज्यों को अपने स्तर पर ही कोविड टेस्ट करवाना होगा. यानी कोविड टेस्ट के लिए जरूरी किट अपने खर्च पर खरीदनी होगी. केंद्र सरकार 31 अगस्त तक ही कोविड-19 टेस्ट के लिए जरूरी टेस्ट किट उपलब्ध करवाएगा.

वर्तमान में कोविड 19 के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट जरूरी है. एक टेस्ट पर करीब 2500 रुपये खर्च आता है. एक किट में आरएनए-एक्स्ट्रैक्शन और वीटीएम सहित तीन कंपोनेंट होते हैं. यह पूरी किट पहले आईसीएमआर के माध्यम से केंद्र सरकार प्रदेशों को उपलब्ध करवाती थी.

अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने कहा कि केंद्र ने सभी राज्यों के लिए यह पॉलिसी तैयार की है. हिमाचल सरकार ने टेस्टिंग किट के लिए टेंडरिंग प्रक्रिया आरंभ कर दी है. निदेशक स्वास्थ्य को पूरी प्रक्रिया को अंजाम देने को कहा गया है. आरडी धीमान, अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य का कहना है कि हिमाचल कोविड 19 टेस्ट का बोझ जनता पर नहीं डालेगी. पहले ही तरह ही टेस्ट मुफ्त में होते रहेंगे. 1 सिंतबर से प्रदेश में अपने खर्च पर कोविड-19 टेस्ट होंगे. अब तक केंद्रीय मदद से 1 लाख 56 हजार 104 टेस्ट किए जा चुके हैं.