हॉकी इंडिया एकतरफा फैसला करके कॉमनवेल्थ गेम्स से नहीं हट सकता: अनुराग ठाकुर

0
62
views
Image Credit: Google

खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने अगले साल होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स से हटने का एकतरफा फैसला करने के लिए हॉकी इंडिया को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय महासंघ का ऐसा कोई भी निर्णय करने से पहले सरकार के साथ परामर्श करना जरूरी होता है. ठाकुर ने कहा कि देश में ओलंपिक खेलों का मुख्य वित्त पोषक होने के कारण सरकार को राष्ट्रीय टीम के प्रतिनिधित्व पर निर्णय करने का पूरा अधिकार है.

उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘मुझे लगता है कि किसी भी महासंघ को इस तरह का बयान देने से बचना चाहिए  और पहले सरकार के साथ चर्चा करनी चाहिए, क्योंकि यह महासंघ की टीम नहीं, राष्ट्रीय टीम है.’

ठाकुर ने कहा, ‘इस 130 करोड़ की जनसंख्या वाले देश में केवल 18 खिलाड़ी देश का प्रतिनिधित्व नहीं करते है. यह (राष्ट्रमंडल खेल) वैश्विक प्रतियोगिता है  और मेरा मानना है कि उन्हें सरकार और संबंधित विभाग से बात करनी चाहिए. फैसला सरकार करेगी.’

हॉकी इंडिया ने कोविड-19 से जुड़ी चिंताओं और ब्रिटेन के पृथकवास से जुड़े भेदभावपूर्ण ऩियमों के कारण मंगलवार को बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों से हटने का का फैसला किया, जिसके बाद ठाकुर का कड़ा बयान आया है

हॉकी इंडिया ने इसके साथ ही कहा था कि बर्मिंघम खेलों और हांगजोउ एशियाई खेलों  के बीच केवल 32 दिन का समय है. एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने पर टीम 2024 में होने वाले पेरिस ओलंपिक के लिए सीधे क्वालिफाई कर जाएगी.