पंजाब बंद का दिखा मिला-जुला असर, दुकानें और बाजार कई जगहों पर खुले

0
157
views

25 जनवरी को बुलाए गए बंद का पंजाब में मिला-जुला असर दिखाई दिया. ज्यादातर इलाकों, खासकर शहरों में शनिवार को जनजीवन आम दिनों की तरह जारी रहा. बाजार सामान्य दिनों की तरह ही खुले रहे. कुछ जगह बंद के समर्थकों ने राज्‍य में विभिन्‍न स्‍थानों पर प्रदर्शन किया और बाजार, यातायात बंद कराने की काेशिश की.

  • बंद के मद्देनजर राज्‍य में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.
  • हाेशियारपुर में बंद के समर्थक और इसका विरोध कर रहे संगठन आमने-सामने आ गए, लेकिन पुलिस ने हालात को संभाल लिया.
  • जालंधर में जिला स्तर के सिख संगठनों के अलावा किसी भी संस्था ने इसका समर्थन नहीं किया.
  • इस कारण बंद शहर में पूरी तरह बेअसर रहा, शहर के शिक्षण संस्थान भी सामान्य दिनों की तरह खुले रहे.
  • सुबह बच्चे स्कूल गए जहां गणतंत्र दिवस को लेकर विशेष कार्यक्रम आयोजित किए गए.
  • बठिंडा और फाजिल्का में बंद के आह्वान का असर नहीं था, पठानकोट-गुरदासपुर में हल्का सा प्रभाव देखने को मिला चौक-चौराहों पर पुलिस तैनात देखी गई.
  • लुधियाना में भी बंद पूरी तरह से विफल रहा। सभी दुकानें खुलीं और बाजारों में पूरी चहल-पहल है। रोपड़ जिले, नवांशहर और फतेहगढ़ साहिब में भी बंद का कोई असर नहीं है।

मोगा, और बरनाला में बंद कराए बाजार

मोगा में कुछ सिख संगठनों के सदस्‍यों ने दुकानदारों को धमकाते हुए बाजार बंद कराया। इसके बाद पुलिस के फ्लैग मार्च निकालने के बाद दुकानदारों ने अपन दुकानें खोल दीं। मुक्तसर में भी बाजार आम दिनों की तरह खुले हुए हैं। हालांकि यहां कुछ संगठनों ने बंद के समर्थन में प्रदर्शन किया, बरनाला में सिख संगठनों व मुस्लिम भाईचारा संगठनों ने खुले बाजारों को बंद करवाया, लेकिन बाद में पुलिस के पहुंचने पर दुकानों खुल गईं. बंद समर्थकों ने शहर में प्रदर्शन किया.