ICC के कार्यक्रम में बोले PM मोदी- लोकल के लिए वोकल होना जरूरी, स्वदेशी को अवसर बनाएं

0
531
views

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार सुबह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स (ICC) के 95 वें सालाना कार्यक्रम को संबोधित किया.

इस संबोधन में पीएम मोदी ने कोरोना संकट को अवसर में बदलने की बात कही. उन्होंने कहा, ‘इस समय आईसीसी के सदस्यों के चेहरे पर और करोड़ों देशवासियों के चेहरे पर मैं एक नया विश्वास और आशा देख सकता हूं. पूरा देश इस संकल्प से भरा हुआ है कि इस आपदा को अवसर में बदलना है और इसे हमें एक बहुत बड़ा टर्निंग प्वाइंट भी बनाना है.

उन्होंने कहा यह टर्निंग प्वाइंट है, आत्मनिर्भर बनना.’ मौजूदा कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री का यह भाषण काफी महत्वपूर्ण है. इससे पहले प्रधानमंत्री ने 2 जून को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) की एजीएम में भाग लिया था.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज कोई भी कंपनी सीधे पीएमओ तक अपने सामान या प्रपोज़ल को पहुंचा सकते हैं, लोगों को GEM से जुड़ना होगा. ताकि देसी कंपनियों का सामान सरकार भी खरीदे.

प्रधानमंत्री ने कहा कि 5 साल पहले एक LED बल्ब 350 रुपये में मिलता था, लेकिन अब 50 रुपये में मिलता है. अब देश में करोड़ों घरों में इसका उपयोग हो रहा है, इससे उत्पादन की लागत कम हुई, लाभ हुआ है. अब इससे बिजली का बिल भी कम हुआ है, इसका लाभ पर्यावरण को हुआ है.

पीएम ने कहा कि हम पानी के रास्ते को सुचारू रूप से बढ़ा रहे हैं, हल्दिया-कोलकाता रूट शुरू हुआ है और अब नॉर्थ ईस्ट की ओर इसे बढ़ा रहे हैं. इससे पैसों की बचत हो रही है, सामान जल्दी मिलेगा और इसी के साथ पर्यावरण भी सुधर रहा है. इसके अलावा सिंगल यूज़ प्लास्टिक का अभियान अब जन आंदोलन बन गया है.

पीएम मोदी ने कहा कि इस वक्त मुसीबत की दवाई सिर्फ मजबूती है, मुश्किल वक्त में भारत हमेशा आगे बढ़कर सामने आया है. आज पूरी दुनिया ही इस संकट से लड़ रही है, कोरोना वॉरियर्स के साथ देश इस लड़ाई में पीछे नहीं है. प्रधानमंत्री ने कहा कि अब देशवासी के मन में संकल्प है कि आपदा को अवसर में बदलना है, इस संकट को देश का टर्निंग प्वाइंट बनाना है. आत्मनिर्भर भारत ही टर्निंग प्वाइंट है.