पीएम मोदी को मिला ‘चैंपियंस ऑफ द अर्थ’ अवॉर्ड, UN महासचिव ने किया सम्‍मानित

0
429
views

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बुधवार को संयुक्त राष्ट्र (यूएन) का सर्वोच्च पर्यावरण पुरस्कार ‘चैंपियंस ऑफ द अर्थ’ अवॉर्ड दिया गया. प्रवासी भारतीय केंद्र में उन्‍हें यह अवॉर्ड संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने प्रदान किया. पीएम मोदी को यह अवॉर्ड देने की घोषणा 26 सितंबर को गई थी. उन्‍हें फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ संयुक्‍त रूप से यह अवॉर्ड देने की घोषणा की गई थी.

पीएम मोदी को यह अवॉर्ड पर्यावरण के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण योगदान के लिए दिया गया है. उन्‍हें सतत विकास, जलवायु परिवर्तन पर अनुकरणीय नेतृत्व और सकारात्मक कदम उठाने के लिए यह अवॉर्ड दिया गया है. उन्‍हें यूएन का यह सर्वोच्‍च पर्यावरण पुरस्‍कार भारत को 2022 तक एकल इस्तेमाल वाले प्लास्टिक से मुक्त कराने के संकल्प और अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन के कुशल नेतृत्व के लिए प्रदान किया गया है.

प्रवासी भारतीय केंद्र में यह अवॉर्ड प्राप्त करने के बाद पीएम मोदी ने इसके लिए संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव को धन्‍यवाद दिया. पीएम मोदी ने कहा कि इस कार्यक्रम का आयोजन भारत में होना गर्व की बात है. उन्होंने इसे भारत की सवा सौ करोड़ जनता का सम्मान बताया. पीएम मोदी ने कहा, ‘यह सम्मान पर्यावरण के संबंध में भारत की सवा सौ करोड़ जनता की प्रतिबद्धता का सम्मान है. भारत की नित नूतन और पुरातन संस्कृति का सम्मान है, जिसने प्रकृति में परमात्मा को देखा है. यह जंगलों में रह रहे उन आदिवासी भाइयों का सम्मान है, जो जीवन से ज्यादा जंगल से प्यार करते हैं. यह मछुआरों का सम्मान है जो समंदर से इतना ही लेते हैं, जितना अर्थोपार्जन के लिए जरूरी है. वे स्कूल कॉलेज में नहीं गए होंगे, लेकिन वे मछलियों के प्रजनन के समय अपने काम को रोक लेते हैं. यह भारत के उन करोड़ों किसानों का सम्मान है जिनके लिए ऋतुचक्र ही जीवनचक्र है. यह उस महान भारतीय नारी का सम्मान है, जिसके लिए रीयूज और रीसाइकल रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा है. जो चींटी को भी अन्न देना पुण्य मानती है. यह भारत में प्रकृति और पर्यावरण की रक्षा के लिए समर्पित अनाम भारतीयों का सम्मान है.