जानिए World Heart Day का इतिहास, कोरोना काल में रखें दिल का खास ख्याल

0
444
views
image credit: google

दिल की सेहत के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 29 सितंबर को World Heart Day मनाया जाता है। इस खास दिन को मनाने की शुरुआत सबसे पहले साल 2000 में हुई थी। उस समय यह तय किया गया कि हर साल World Heart Day सितंबर माह के आखिरी रविवार को मनाया जाएगा। लेकिन साल 2014 में इस खास दिन को मनाने के लिए 29 सितंबर की तारीख तय कर दी गई।

इस दिन को मनाने के पीछे का उद्देश्य लोगों को दिल से जुड़ी बीमारियों के प्रति जागरूक करना है। आज छोटी उम्र से लेकर बुजर्ग तक हृदय रोग से पीड़ित देखे जा सकते हैं। हृदय रोग पूरे विश्व में आज एक गंभीर बीमारी के तौर पर उभर रहा है।

भारत में हर पांचवा व्यक्ति दिल का मरीज है। वर्ल्ड हार्ट फेडरेशन के अनुसार, हार्ट संबंधी बीमारियों से हार साल करीब 18 मिलियन मरीजों की मौत होती है। इस साल वर्ल्ड हार्ट डे 2020 के लिए थीम ‘यूज हार्ट टू बीट कार्डियोवस्कुलर डिजीज रखी गई है।

ह्रदय रोग की गंभीरता को समझते हुए आपको उन आहारों को चुनना चाहिए, जो आपके दिल के साथ-साथ पूरे शरीर के लिए सही हो। फास्ट फूड, जंक फूड, सिगरेट और शराब से दूरी बनाकर रखना चाहिए। आप अपने आहार में हरी पत्तेदार सब्जियां और फलों को शामिल करें। इसके अलावा, आधा घंटा ही सही आपको नियमित रूप से व्यायाम करने की आदत डालनी चाहिए। आप वॉक कर सकते हैं, दौड़ सकते हैं या फिर साइकिल चला सकते हैं।